• 06:35 pm
news-details
पंजाब-हरियाणा

जमातियों को शरण देने वाले इमाम की जांच जारी है : एडीजीपी मिश्रा


लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा : मिश्रा


पलवल, 05 अप्रैल (सुन्दर कुंडु) : साउथ रेंज रेवाड़ी एडीजीपी आरसी मिश्रा ने पलवल दौरे के दौरान पुलिस अधिकारियो की बैठक लेने के बाद कोरोना वायरस से निपटने के लिए सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस मौके पर उनके साथ पुलिस कप्तान दीपक गहलावत भी मौजूद रहे। जिले का जायजा लेने पलवल पहुंचे मिश्रा पलवल आगरा चौंक पर रुके और शहर थाना प्रभारी को सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आवश्यक निर्देश दिये। एक ही हफ्ते में दूसरी बार लॉक डाउन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था का दौरा लेने पहुंचे एडीजीपी आरसी मिश्रा जिले के व्यस्तम रहने वाले आगरा चौक पर रुके। जंहा उन्होंने मौके पर मौजूद शहर थाना प्रभारी राजेश कुमार से सुरक्षा व्यवस्था के बारे में जानकारी लेने के बाद उन्हें यह हिदायत दी कि बेवजह बाहर निकलने वालों पर सख्त कार्यवाही कर उनके वाहनों को इंपाउंड करे और धारा 144 और 188 के तहत कार्यवाही करें। पत्रकारों से बातचीत के दौरान एडीजीपी आरसी मिश्रा ने कहा कि पलवल जिले के हथीन उपमंडल में मिले जमात के सदस्यों को शरण देने वाले ईमाम को लेकर भी जाँच की जा रही है। मिश्रा ने कहा कि उनके पास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हैं। ऐसे लोगों से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले दो- तीन दिन में तबलीगी जमात की वजह से लगातार मामले बढ़ रहे हैं। तबलीगी जमात के सदस्यों को ढूंढकर आइसोलेशन तथा क्वॉरेंटाइन सेंटरों में रखा गया है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा तब्लीगी जमात वाले ज्यादातर जमात के सदस्यों को ट्रेस कर लिया गया है। एडीजीपी आरसी मिश्रा ने कहा कि पुलिस विभाग को भी दस्ताने और सैनिटाइजर उपलब्ध करवा दिए गए है। ताकि वह भी अपनी सेहत का ध्यान रख सके। कोरोना वायरस के संबंध में लगी ड्यूटीयो एवं नाको को चैक किया गया। नाकों पर नियुक्त सभी कर्मचारियों एवं अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि खाद्य सामग्री एवं एसेंशियल कमोडिटीज से संबंधित वाहनों मेडिकल विभाग से संबंधित वाहनों, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग से संबंधित वाहनों, फल सब्जी एवं रोजमर्रा की जरूरत का सामान ले जाने वाले वाहनों को ना रोका जाए। अनावश्यक रूप से वाहनों पर घूमने वाले व्यक्तियों के खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्यवाही की जाए। जिला पलवल में लाक डाउन लागू होने के बाद अब तक 928 वाहनों का चालान किया गया है तथा 301 वाहनों को जब्त किया गया है। जिन पर करीब 80,00,000 रुपए का जुर्माना लगाया गया है। लाक ड़ाउन का उल्लंघन करने पर अब तक 58 अभियोग दर्ज करके  95 आरोपियों को अरेस्ट किया गया है

You can share this post!

Comments

Leave Comments