• 09:48 am
news-details
पंजाब-हरियाणा

अब मोबाइल की तरह रिचार्ज होंगे बिजली कनेक्शन,स्मार्ट मीटर पर सस्ती बिजली मिलेगी

हरियाणा सरकार की बड़ी तैयारी


हरियाणा। प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं के बिल कम करने और लाइन लॉस को घटाने के लिए स्मार्ट मीटरों की योजना तैयार की है। इस योजना के तहत प्रदेश में करीब 30 लाख स्मार्ट मीटर लगाने की तैयारी है। इन मीटरों का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि पांच फीसदी बिजली के रेट कम लिए जाएंगे, साथ ही मोबाइल रिचार्ज की तरह बिजली के मीटर को रिचार्ज करेंगे तो बिजली की गैर जरूरी खपत भी कम होगी।


हरियाणा के विद्युत,नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश में वर्ष 2024 तक 30 लाख स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे। पहले चरण में लगभग 1600 करोड़ रुपए की लागत 10 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का कार्य जारी है। दूसरे चरण में 20 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 1600 करोड़ रुपए की इस राशि में से केंद्र सरकार द्वारा 780 करोड़ रुपए की सहायता दी जाएगी,जबकि 820 करोड़ रुपए राज्य सरकार खर्च करेगी।


एचईआरसी ने प्री-पेड मीटर व्यवस्था शुरू करने के लिए बिजली वितरण कंपनियों के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इसने प्री-पेड सुविधा का लाभ उठाने वाले उपभोक्ताओं के लिए लागू टैरिफ पर 5 प्रतिशत की छूट प्रदान की गई है। यह निर्णय बिलिंग और संग्रह दक्षता में सुधार के लिए कारगर साबित होगा। 


रणजीत सिंह ने बताया कि ये मीटर पूरी तरह से हाईटैक और कंप्यूटरीकृत होंगे। उपभोक्ता अपने मोबाइल फोन के जरिये भी अपने मीटर की मॉनिटरिंग कर सकेंगे। ये मीटर प्री-पेड होंगे और बिजली उपभोक्ता मोबाइल फोन की तरह इन मीटरों को भी अपनी जरूरत के हिसाब से रिचार्ज कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि हर मीटर का कंट्रोल बिजली निगमों के पास रहेगा तथा मीटरों के साथ किसी भी तरह से छेड़छाड़ नहीं की जा सकेगी। इसके अलावा, ये मीटर लगने के बाद उपभोक्ताओं की मीटर खराब होने या अधिक स्पीड से चलने जैसी शिकायतें भी न के बराबर होंगी।

स्मार्ट मीटर से फायदा
बिजली उपभोक्ताओं को टैरिफ रेट में पांच फीसदी कम रेट की सुविधा अपनी मर्जी के हिसाब से बिजली का उपयोग कर सकेंगे प्रीपेड मीटर में बिजली के खर्च की तुरंत जानकारी मिलती रहेगी बिजली उपभोक्ताओं को मोबाइल रिचार्ज की तरह बिजली का रिचार्ज मिल सकेगा बिजली के अनावश्यक खर्च पर रोक लगेगी
अपने मोबाइल फोन से भी मीटर की मॉनिटरिंग कर सकेंगे
मीटर के खराब होने की शिकायतें भी न के बराबर होगी

You can share this post!

Comments

Leave Comments