• 08:05 pm
news-details
पंजाब-हरियाणा

सरकार को किसानों की नही केवल धनाढ्य लोगों की फिक्र है : सैलजा

 

पलवल,  (सुन्दर कुंडु) : देश भर में चल रहे किसान आंदोलन को हरियाणा में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस का भरपूर सहयोग मिल रहा है। किसान आंदोलन के पहले दिन से ही कांग्रेस के सभी नेता धरना स्थलों पर पहुंचकर किसानों के आंदोलन को समर्थन देते हुए किसानों की मांगों को जायज ठहरा रहे है और भाजपा पर भी जमकर तंज कसते हुए उन्हें किसान,कमेरे और मजदूर विरोधी सरकार बता रहे है। इसी कड़ी में रविवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्षा कुमारी सैलजा पलवल राष्ट्रीय राजमार्ग 19 पर धरना दे रहे किसानों के बीच पहुंची और भाजपा सरकार पर जमकर शब्दबाण चलाये। कुमारी सैलजा ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब भाजपा द्वारा ये कानून बनाये जा रहे थे तभी राहुल गांधी ने इन कानूनों के खिलाफ आवाज उठाई थी उसके बावजूद भी ये कानून लागू कर दिए गए। सैलजा ने कहा कि यह सरकार बातचीत के नाम पर किसानों के साथ ढोंग कर रही है। सैलजा ने कहा कि सरकार सात दौर की बातचीत के बाद भी किसानों की समस्या का कोई हल नही निकाल पाई उनकी मांग है कि सरकार ढोंग बंद कर किसानों की मांगों को माने। उन्होंने कहा कि सरकार ने देश के नागरिकों से बात किये बिना यह कानून लागू कर दिए जिसके चलते लोगों को सड़कों पर उतरने को मजबूर होना पड़ा।

  सैलजा ने कहा कि किसान आंदोलन तो पूरी तरह सफल है लेकिन सरकार और शासक को यह नही कहना चाहिए कि वो किसानों के समक्ष बिल्कुल नही झुकेंगे। उन्होंने कहा लोकतंत्र में सभी की बातें सुनी जानी चाहिए लेकिन सरकार ने तो 45 से ऊपर जान गवां चुके किसानों के लिए भी सहानभूति के तौर पर एक शब्द तक नही बोला। वहीं नोटबन्दी के दौरान भी करीब 150 लोगों की जानें गयी फिर भी सरकार संवेदनहीन रही। सैलजा ने कहा कि भाजपा के मंत्री किसानों के बारे में उलूल जुलूल बातें कर देश को बांटने का काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि वैसे भाजपा देश भक्ति की बात करती है और अपने ही देश के नागरिकों को गलत शब्दों के साथ बुलाती है यह कौनसी देशभक्ति है। उन्होंने कहा कि बीते दिनों आये निकाय चुनावों के नतीजों ने यह साबित कर दिया कि लोग इनकी नीतियों के चलते इनसे दूर जा चुके है। उन्होंने कहा कि सत्ता में बैठे इन लोगों को आम आदमी और किसान की फिक्र नही केवल कुछ पूंजीपतियों और धनाढ्य लोगों की फिक्र है। आगे पूंजीपतियों का मुनाफा ही नही होगा मुनाफाखोरी होगी। इस दौरान सैलजा के अलावा पूर्व मंत्री करन सिंह दलाल,पूर्व विधायक उदयभान,एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा व अन्य नेताओं ने भी आंदोलन स्थल पर किसानों को सम्बोधित किया।

You can share this post!

Comments

Leave Comments