• 09:54 pm
news-details
राज्य

राहुल ने दिये संकेत सचिन पायलट के लिए कांग्रेस के दरवाजे बंद ! कहा जो पार्टी छोड़कर जाना चाहता है वो जा सकता है !

NSUI के पदाधिकारियों के साथ बुधवार को हुई बैठक में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा, "जिसको पार्टी छोड़कर जाना है वो जाएगा ही, आप लोगों को परेशान नहीं होना है, जब कोई जाता है तो आप जैसे लोगों के लिए रास्ते खुलते हैं."

नई दिल्ली. राजस्थान (Rajasthan) में सचिन पायलट और अशोक गहलोत (Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot) के बीच तनातानी के बीच कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ऐसा बयान दिया है, जिसके बाद ऐसा लग रहा मानो पायलट के लिए पार्टी ने अपने दरवाजे बंद कर लिए हों. NSUI के पदाधिकारियों के साथ बुधवार को हुई बैठक में राहुल गांधी ने कहा, "जिसको पार्टी छोड़कर जाना है वो जाएगा ही, आप लोगों को परेशान नहीं होना है, जब कोई जाता है तो आप जैसे लोगों के लिए रास्ते खुलते हैं."

हालांकि इसके थोड़ी देर बाद ही एनएसयूआई की एआईसीसी प्रभारी रुचि गुप्ता ने राहुल के बयान पर सफाई दी है. रुचि की ओर से कहा गया है कि आज राहुल गांधी के साथ एनएसयूआई की बैठक के बारे में कुछ मीडिया रिपोर्ट्स आई हैं. मैं स्पष्ट रूप से बताना चाहती हूं कि वे रिपोर्ट आधारहीन हैं. यह एक आंतरिक एनएसयूआई बैठक थी और हमने केवल छात्रों और युवाओं के मुद्दों पर चर्चा की.

विधायकों को भेजा नोटिस

राजस्‍थान सियासी संकट (Political crisis) के बीच कांग्रेस ने पार्टी व्हिप के उल्लंघन के मामले में बागी विधायकों (Rebel MLAs) पर कार्रवाई की तैयारी कर ली है. विधानसभा अध्यक्ष ने पार्टी व्हिप के उल्लंघन पर बागी विधायकों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. सचिन पायलट सहित 19 विधायकों को यह नोटिस दिया गया है.

गांधी परिवार से संपर्क सांधने की कोशिश

राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से बर्खास्त होने के अगले दिन यानी बुधवार को सचिन पायलट ने कहा- 'मैं आज भी कांग्रेसी ही हूं.' पायलट ने इसके साथ ही जोर देते हुए ये कहा कि उनके बीजेपी (BJP) में शामिल होने की अटकलें दरअसल गांधी परिवार से उनके रिश्ते बिगाड़ने की कोशिशों के तहत खड़ी की गईं. न्यूज एजेंसी PTI से बातचीत करते हुए पायलट ने कहा कि राजस्थान के ही कुछ नेता पार्टी हाई कमान के बीच उनकी छवि धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं.

बाल-बाल बची अशोक गहलोत सरकार

सचिन की बगावत के बावजूद राजस्थान में कांग्रेस ने फिलहाल अपनी सरकार तो बचा ली है लेकिन पार्टी की खूब किरकिरी हुई है. इस हालात के लिए कई लोग कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में कमी को कारण मानते हैं.

You can share this post!

Comments

Leave Comments