• 01:10 pm
news-details
हेल्थ

डीसी नरेश नरवाल ने कहा, कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन गम्भीर 

स्वास्थ्य विभाग ने जारी किए हेल्पलाइन नम्बर, जिला मुख्यालय के नागरिक अस्पताल में बनाया विशेष वार्ड, 3 निजी अस्पतालों में भी विशेष इंतजाम  पलवल जिला प्रशासन ने सभी जिलावासियों के लिए कोरोना वायरस से बचाव की एडवाइजरी जारी की है और हैल्प लाईन नंबर भी जारी किए हैं। अगर आपको बुखार, खांसी या सांस लेने में तकलीफ जैसी कोई समस्या हो तो आप स्वास्थ्य विभाग पलवल के हैल्पलाईन नंबर 01275-240022 अथवा 8950094663 पर कॉल करें। लैंडलाइन पर प्रात: 9 से शाम साढे पांच बजे तक तथा मोबाइल नंबर 24 घंटे चालू रहेगा। इन नंबरों पर कॉल करने पर फोन जरूर उठाया जाएगा। 
उपायुक्त नरेश नरवाल ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि कोराना वायरस संक्रमण को लेकर जिला प्रशासन गंभीर है और इससे बचाव के बारे में लोगों को स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के हवाले से उपायुक्त श्री नरवाल ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के सरल उपाय अपनाए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि पलवल जिला में विदेश से आने वाले लोगों को कुछ सावधानियां बरतनी जरूरी हैं। 
इन सावधानियों का उल्लेख करते हुए उपायुक्त ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति पिछले 15 दिनों में चीन से आया है या कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में था तो वह 14 दिनों के लिए सबके साथ संपर्क सीमित रखे और अलग कमरे में सोए। छींकते और खासते समय नाक और मुंह को ढकें, कपड़ा रखें। नियमित रूप से साबुन और पानी से हाथ धोएं और जिस व्यक्ति को खांसी, जुकाम या बुखार के लक्षण हों, उससे दूरी बनाए रखें। श्री नरवाल ने बताया कि कोरोना वायरस एक नई बीमारी है जोकि आजकल चीन में फैल रही है और अन्य देशों को भी प्रभावित कर रही है। यह एक फ्लू जैसी बीमारी है जिसके लक्षण खांसी, बुखार तथा सांस लेने में तकलीफ हैं। 
पलवल जिला में स्वाथ्य विभाग ने किए पुख्ता प्रबंध 
सिविल सर्जन डॉ. ब्रह्मदीप सिंह ने कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए गए प्रबंध की जानकारी देते हुए बताया कि जिला में पर्याप्त संख्या में एन95 मास्क, ट्रिपल मास्क, वीटीएल मास्क, पीपीई किट आदि उपलब्ध हैं और रैपिड रिस्पोंस टीम का गठन कर दिया गया है जो तत्परता से कार्य करेगी। यही नहीं, जिला के नागरिक अस्पताल में भी इसके लिए अलग से वार्ड बनाकर 07 बैड की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि तीन प्राईवेट अस्पतालों नामत: गुरुनानक हॉस्पिटल (चार बेड) अपैक्स हॉस्पिटल व पलवल हॉस्पिटल (2-2 बेड) की पहचान की गई हैं जहां पर कोरोना वायरस से संक्रमण का संदेह वाले मरीजों के लिए अलग वार्ड तथा वेंटिलेटर ( गुरुनानक हॉस्पिटल 03 वेंटिलेटर) आदि की व्यवस्था है जिन्हें जिला प्रशासन द्वारा सूचीबद्ध कर लिया गया है। इन अस्पतालों में 15 तथा 03 वैंटिलेटरों की व्यवस्था है। इसके अलावा, चिकित्सा अधिकारियों को कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने की टेऊनिंग भी दी गई है। प्राईवेट अस्पतालों को भी एडवाइजरी भेजी गई है।

You can share this post!

Comments

Leave Comments