• 07:01 pm
news-details
उत्तराखंड

4 सालों की विफलता पर आप कार्यकर्ताओं का सीएम आवास कूच, बीजेपी से कहा,हिसाब दो,जवाब दो!

उत्तराखंड सरकार के विफलताओं भरे 4 साल के विरोध में आम आदमी पार्टी ने प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया और आप प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर के नेतृत्व में मुख्यमंत्री आवास की ओर कूच किया। इस दौरान हजारों की संख्या में आप कार्यकर्ता अलग अलग विधानसभाओं से यहां पहुंचे जहां उन्हें मुख्यमंत्री आवास कूच करने के दौरान हाथीबडकला में पुलिस ने बैरिगेटिंग लगातार रोक दिया।इस दौरान आप कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच धक्का मुक्की का माहौल बन गया ।कई कार्यकर्ताओं ने जबरदस्ती बेरिकेटिंग पर चढ़ने की कोशिश की जिनको पुलिस ने बलपूर्वक पीछे धकेला। आप कार्यकर्ताओं ने काफी देर नारेबाजी करने के बाद वहीं धरने पर बैठ गए जिसके बाद पुलिस ने जबरन आप प्रभारी समेत कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गए।

बीजेपी सरकार के चार साल की विफलता पर आप का हिसाब दो जवाब दो के तहत मुख्यमंत्री आवास कूच में हजारों की संख्या में पहुंचे आप कार्यकर्ता आज काफी जोश में नजर आए ,जिनमें प्रदेश प्रभारी और आप अध्यक्ष की उपस्थिति ने कार्यकर्ताओं में जोश पैदा कर दिया जिसकी वजह ये रही काफी देर तक कार्यकर्ता जुलूस के तौर पर पहुंचते रहे। आज सुबह सभी आप कार्यकर्ता कालीदास चौक पर एकत्रित हुए जहां से आप प्रदेश प्रभारी और अध्यक्ष के नेतृत्व में हजारों समर्थकों ने जमकर नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री आवास की ओर कूच किया। जहां भारी संख्या में मौजूद पुलिसबल ने बैरिगेटिंग लगातार सभा आप कार्यकर्ताओं को रोक दिया। इस दौरान आप प्रदेश अध्यक्ष और प्रभारी समेत कई कार्यकर्ताओं ने भी बेरिकेटिंग पर चढने की कोशिश की जिससे पुलिस और आप कार्यकर्ताओं में झडपें भी हुई।

इस दौरान आप प्रदेश प्रभारी समर्थकों के साथ वहीं बैठ गए और उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि आज बीजेपी के बीते 4 सालों के कुशासन के विरोध में आप कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री आवास का घेराव किया। उन्होंने कहा कि, बीजेपी सरकार ने उत्तराखंड की जनता के साथ छल किया है जिसे जनता किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि, बीजेपी ने जनता के 4 साल खराब किए हैं, उसका जवाब जनता को आखिर कौन देगा। उन्होंने कहा कि, आप पार्टी और जनता को इन 4 सालों का जवाब चाहिए और अगर जवाब नहीं मिलता तो समस्त बीजेपी नेताओं के घर घर जाकर आप पार्टी बीते 4 सालों का जवाब मांगेगी। उन्होंने कहा कि, मुख्यमंत्री बदलना सिर्फ खानापूर्ति करने जैसा है। आप पार्टी सभी विधायकों से भी इन बीते 4 सालों का हिसाब जरुर लेगी। जनता के साथ किए गए छल का जवाब आगामी विधानसभा चुनावों में बीजेपी को मिल जाएगा और जनता ही इन्हें अर्श से फर्श पर लाकर पटकेगी।

आप प्रभारी के नेतृत्व में आप कार्यकर्ता जवाब दो हिसाब दो की मांग पर अड़े रहे जिसके चलते पुलिस और आप कार्यकर्ताओं ने बीच एक बार फिर जमकर धक्कामुक्की का माहौल पैदा हो गया जिसके बाद पुलिस ने आप प्रभारी समेत 60 से 70 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार करते हुए पुलिस लाईन ले गई जहां बाद में निजी मुचलके पर सभी को रिहा किया गया।

इस घेराव के दौरान आप प्रभारी दिनेश मोहनिया,आप अध्यक्ष एस एस कलेर,प्रदेश सह प्रभारी राजीव चौधरी,आप उपाध्यक्ष विशाल चौधरी,रजिया बेग,रविन्द्र आनंद,योगेन्द्र चौहान,उमा सिसोदिया, नवीन पीर साली,डिंपल,अनंतराम चौहान, डा अंसारी,राजेश शर्मा, सीमा कश्यप,हिमांशू पुंडीर,दीपक सैलवान,कई संगठन मंत्री समेत सैकडों आप कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पुलिस से धक्का मुक्की के दौरान आप अध्यक्ष की तबियत बिगड़ी,अस्पताल में भर्ती

इस दौरान बैरिगेटिंग पर धक्कामुक्की के दौरान आप प्रदेश अध्यक्ष की तबीयत अचानक बिगड जाने से उन्हें आप कार्यकर्ता धेराव के दौरान अस्पताल ले गए । पुलिसकर्मियों ने जबरन आप अध्यक्ष के साथ बदसलूकी की ओर उनको धक्का देते हुए दूर तक ले गए ।इस धक्का मुक्की में उनकी अचानक तबियत खराब हो गई जिससे आनन फानन में कार्यकर्ता उनको अस्पताल ले गए।

आप प्रभारी समेत 60 से 70 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गए

अपनी मांग पर अड़े आप कार्यकर्ता लंबे समय तक बेरिकेटिंग पर बैठे रहे और जवाब दो हिसाब दो के नारे लगाते रहे जिससे पुलिस जबरन उनको गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गई और वहां उनको बाद में निजी मुचलके पर छोड़ दिया।

 

You can share this post!

Comments

Leave Comments