• 01:00 am
news-details
पंजाब-हरियाणा

हरियाणा सरकार का स्कूलों को लेकर बड़ा फैसला, 22 अप्रैल से 31 मई तक ग्रीष्मावकाश घोषित

 

कोरोना को देखते हुए बदला एकेडमिक कैलेंडर

 

जींद। हरियाणा में कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इसके मद्देनजर बुधवार को मनोहर सरकार ने बड़ा फैसला लिया। प्रदेश के स्कूलों का एकेडमिक कैलेंडर बदल दिया गया है। नए आदेश के तहत प्रदेश के सभी स्कूलों में ग्रीष्मावकाश घोषित की दी गई हैं। स्कूलों में 22 अप्रैल से 31 मई तक गर्मी की छुटि्टयां रहेंगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के निर्देशानुसार शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने बुधवार को आदेश जारी किए। शिक्षा मंत्री ने कहा कि 31 मई तक स्कूलों में छुटि्टयां रहेंगी। इन्हें आगे भी बढ़ाया जा सकता है, लेकिन इसका फैसला 31 मई को होने वाली समीक्षा बैठक में लिया जाएगा।

बच्चे स्कूल नहीं आ रहे थे, लेकिन स्टाफ दैनिक कार्यों के लिए नियमित स्कूल आ रहा है। शिक्षक व गैर शिक्षक स्टाफ दाखिला, प्रशासनिक कार्यों व रिजल्ट तैयार करने में लगे हुए हैं। उनके स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए छुटि्टयां की गई हैं। राज्‍य में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्‍या 50 हजार के करीब पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में 7811 नए केस आए। 35 कोरोना मरीजों की मौत हुई है, लेकिन 3367 मरीज ठीक भी हुए हैं। जबकि प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या 49 हजार 772 पर पहुंच गई है। राज्‍य में अब तक महामारी से 3483 लोगों की मौत हो चुकी है। 1116 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है, जिनमें 143 मरीज वेंटिलेटर पर हैं।

You can share this post!

Comments

Leave Comments