• 12:44 am
news-details
पंजाब-हरियाणा

कोरोना महामारी के दौरान वरिष्ठ नागरिकों का विशेष ध्यान रखने की जरूरत : डा. ब्रह्मदीप

 

पलवल, 8 जून (सुन्दर कुंडु) : डॉ ब्रह्मदीप ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए विशेष एहतियात बरते जाने की आवश्यकता है।  वरिष्ठ नागरिकों को देखभाल करने वालों को चलने फिरने में सक्षम व मानसिक रूप से स्वस्थ वरिष्ठ नागरिकों तथा दूसरों पर निर्भर वरिष्ठ नागरिकों के लिए विशेष देखभाल की आवश्यकता है।
  डॉ ब्रह्मदीप ने बताया कि कोरना के मद्देनजर 60 वर्ष से अधिक आयु वाले स्वास्थ्य कारणों से संवेदनशील वरिष्ठ नागरिकों को विशेष देखभाल की आवश्यकता है ।  इस दौरान आमजन वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण कार्य में लगे गैर सरकारी संगठन बुजुर्गों की विशेष देखभाल करें। उन्होंने बुजुर्गों की देखभाल करने वालों के लिए सलाह दी है  कि वरिष्ठ नागरिकों की मदद करने से पहले उन्हें अपने हाथ अच्छी प्रकार से धोने लेने चाहिए।  इसी प्रकार वरिष्ठ नागरिकों के संपर्क में आने के दौरान मुहं व नाक  को कपड़े या मास्क से ढककर रखें ।  वरिष्ठ नागरिकों द्वारा लगातार इस्तेमाल की जाने वाली वस्तुओं जैसे छड़ी, वोकर व्हील चेयर व शैया मलपात्र आदि को नियमित रूप से साफ़ करते रहे।  इसी प्रकार  बुजुर्गों के हाथ में नियमित रूप से धुलवाते रहे हैं और यह सुनिश्चित करें कि वह पर्याप्त मात्रा में भोजन में पानी लेते रहे उनके स्वास्थ्य पर नजर बनाए रखें।  
सिविल सर्जन ने कहा कि यदि बुजुर्ग बुखार, खासी व सांस लेने में तकलीफ महसूस कर रहा है तो उससे ज्यादा निकट ना जाए ऐसी स्थिति में हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करें और उसे चिकित्सक कों दिखाए। बिना हाथ धोए बुजुर्गों को न छुए।  उन्होंने कहा कि चलने फिरने में सक्षम व् मानसिक रूप से स्वस्थ वरिष्ट नागरिको को सलाह  दी गई है कि वे अपने घरो में ही रहे और बाहर से मिलने से परहेज करे।  यदि मिलना आवश्यक हो तो कम से कम  1 मीटर की दूरी बनाए रखें और किसी से भी हाथ न मिलाएं।  अपनी आंखों में मुंह व नाक को बार-बार न छुए , बिना परामर्श  कोई भी दवा ना लें। सामान्य चेकअप आदि के लिए बार-बार अस्पताल में न जाएं । एकांत से बचने के लिए पेंटिंग करने, पुस्तक पढऩे व संगीत सुनने जैसी  हॉबी बनाएं तथा तंबाकू शराब व अन्य नशीले पदार्थों दूर रहें।
        डॉ ब्रह्मदीप ने बताया कि जो वरिष्ठ नागरिकों अकेले रह रहे है तो अपने किसी स्वस्थ पड़ोसी की मदद ले सकते हैं।  वरिष्ठ नागरिकों को घर पर  चहलकदमी योग्य कसरत करते रहे । खाना खाने से पहले और वाशरूम जाने के बाद हाथों की सफाई अवश्य करें।  वे छ्किते व खासते समय  टिशू पेपर या रुमाल आदि का प्रयोग करें  और इस्तेमाल के बाद उनका उचित निष्पादन करें।  घर पर ताज़ा  पोषक भोजन ग्रहण करें, प्रतिदिन ली जा रही दवाइयों को लेते रहें । अपनी सेहत बन नजर रखें ओर यदि बुखार खांसी जुकाम की शिकायत महसूस हो तो नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र से संपर्क करें। आवश्यकता होने पर भी अपने परिजनों (जो साथ के साथ नहीं रह रहे) रिश्तेदार व मित्रों से फोन व् वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संपर्क बनाते रहे।

You can share this post!

Comments

Leave Comments